Dr. Amar Nath Sahu
Dr. Amar Nath Sahu

डा. अमर नाथ साहु
बी.एच.एम. एस.(बी.यू.)
पुराने रोग बिशेषज्ञ

Dr. Amar Nath Sahu
B.H.M.S(B.U.)
CHRONIC DISEASE SPECIALIST

 

क्लिनिक– आदर्श होमियो क्लिनिक कॉम

स्थान – मोहम्मद पुर लेन, महेन्द्रू, पटना-6

दिशा– पटना के अशोक राजपथ मे महेन्द्रू पोस्ट ऑफिस से पूरब एस सी आर टी के सामने वाली गली मे यानी मोहम्मद पुर लेन मे गौतम बुद्ध स्कुल के सामने।

ईलाज- होमियो पैथिक विधि के द्वारा ईलाज

बिषेश– यहाँ कमप्यूटर के द्वारा भी दवा का चुनाव किया जाता है।

व्यवस्था- यहाँ अत्याधुनिक स्तर कि व्यवस्था उपलब्ध है।

विश्वास– हमारे यहाँ दवा क्लिनिकल अनुभव के आधार पर दिया जाता है। हमारे अनुभव का इतिहास बहुत पुराना है।

पंजीकरण– बिहार होमियो पैथिक बोर्ड तथा सेन्ट्रल कॉनसिल ऑफ होमियो पैथिक देलही से पंजिकरण है।

समय– 9 बजे से 1 बजे तक तथा शाम 4 बजे से 9 बजे तक।

कॉलेज– जी डी एम मेडिकल कॉलेज एन्ड हॉसपिटल इस्ट रामकृश्ना नगर पटना।

सुविधा– यहाँ ईलाज के हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। सभी प्रकार के जाँच की व्यवस्था है। रोगी के ईलाज का रिकॉर्ड रखा जाता है।

रोगी– नये तथा पुराने रोगी का ईलाज का ईलाज सफलता पुर्वक किया जाता है।

स्थानांतरण– रोगी के स्तर के अनुसार रोगी को स्थानांतरण किया जाता है

बिभिन्न प्रकार के विमारी का ईलाज के लिए नविनतम तकनिक का उपयोग करते हुए नियत समय मे पुर्ण रूप से ठीक करने के लिए होमियो बिधि का उपयोग किया जाता है। विमार की पुरी परताल के बाद उसके आशंकाओं का समुचित समाधान किया जाता है। इलाज के तुरन्त कार्य करने के कारण बिमार का बिस्वास पुर्ण रुप से सशक्त हो जाता है यथा बिमार जल्द ठीक हो जाता है। विभिन्न प्रकार के बिमारी के इलाज से प्राप्त अनुभव का उपयोग से रोगी को बहुत लाभ पहुँचा है। जटील तथा असाध्य रोग के ईलाज मे कम्प्यूटर के सोफ्टवेयर के तकनिक के उपयोग के कारण रोगी की दवा ज्यादा कारगर साबित हुआ है। हमारे यहाँ रोगी का बिस्तृत बिवरण सुरक्षित रखा जाता है जिससे रोगी को पुरजा भुल जाने बावजुद भी दबा मिल जाता है तथा उपलब्ध आंकड़ो के बिश्लेषन मे भी यह काम आता है।

हमारे अनुभव का इतिहास बहुत पुराणा है। हमारे पिताजी डॉ श्री राम प्रसाद साहु पिछले 40 साल से होमियोपैथिक डॉक्टर है तथा एक सफल होमियोपैथिक डॉक्टर के रूप मे लोगो को चिकित्सिय सुबीधा प्रदान कर रहें है। हमारे दादा जी डॉ स्वरगीय नन्दीपती साहु 50 साल तक लोगो को होमियोपैथिक चिकित्सा सुबीधा प्रदान किये। कई जटिल बिमारी मे आज भी हमारे पिताजी का मार्गदर्शन प्रप्त होता है। हमें उनके क्लिनिकल अनुभव का लाभ मिला है, समय-समय पर मिलता रहता है।

समय के साथ होने वाले चिकित्सिय परिवर्तन के प्रति हमारी सजगता सतत बनी रहती है, जिससे हमे रोगी को समझने तथा उसका समुचित इलाज करने मे सहायता मिलती है। प्रत्येक रोगी अपने आप मे अलग होता है जिसके ईलाज की सफलता से हमे एक नई कार्य उर्जा का एहसास होता है। हमारे ईलाज की सफलता हमें अधिक बिसश्वत एवं सशक्त बनाती है। अतः आप भी हमारे चिकित्सिय अनभव का लाभ उठावें। रोगी के रोग निर्धारण मे जॉच एक उपयोगी हथियार साबित होता है जिसका उपयोग आवश्यता अनुसार किया जाता है, जिससे रोगी को रोग मुक्ति मे संतोषजनक परिवर्तन का प्रमाण भी मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *